• Mon. Sep 27th, 2021

Shayari India

Shayari in Hindi | Shayari on love, sad, friendship, smile, eyes, attitude | Shayari with images and more

Top 10 Best Bachpan Quotes-Meri maili hatheli par to bachpan se

Bachpan shayari

Childhood Quotes In Hindi

हम अपने बचपन में वापस तो नहीं जा सकते पर उसे याद कर के खुश जरुर हो सकते है. हम आपकी कुछ पुराणी यादे तजा करते है.
उम्मीद करती हू आप इस पोस्ट Bachpan Quotes को पढ़ कर अपने बचपन में फिर से लौट जायेंगे.
और अगर आपको ये Bachpan Quotes की शायरी पसंद आए तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी share कर सकते है.

Bachpan Quotes

Meri maili hatheli par to bachpan se
Garivi ka khara sona chamkata.
मेंरी मैली हथेली पर तो बचपन से
ग़रीबी का खरा सोना चमकता है

Dekhkar rel ke dibbe buharta bachpan,
Log kah dete hai “pawo me khada hai to sahi”
देखकर रेल के डिब्बे बुहारता बचपन
लोग कह देते हैं– “ पाँवों पे खड़ा है तो सही”

Mumkin hai hame hav bhi pehchan n paye,
Bachpan me hi ham ghar se kamane nikal aaye.
मुमकिन है हमें गाँव भी पहचान न पाए
बचपन में ही हम घर से कमाने निकल आए

Phir mujhe yad aayega bachpan,
Ek jamana guma se gujrega.
फिर मुझे याद आएगा ~बचपन
इक ज़माना गुमाँ से गुज़रेगा

Pachpan ki yaaden

Bachpan Quotes image

Maine bachpan ki khushbu e-najuk
Ek titali ke sang udai thi.
मैं ने बचपन की ख़ुशबू-ए-नाज़ुक
एक तितली के संग उड़ाई थी

Maine bachpan me adhura khwab dekha tha koi,
Aaj tak masruf hu us khwab ki takmil me
मैं ने बचपन में अधूरा ख़्वाब देखा था कोई
आज तक मसरूफ़ हूँ उस ख़्वाब की तकमील में

Ghar ka bojh uthane bache ki raqdir n puch,
Bachpan ghar se bahar nikla or khilauna tut gaya.
”घर का बोझ उठाने वाले ब्च्चे की तक़दीर न पूछ
बचपन घर से बाहर निकला और खिलौना टूट गया”

Missing bachpan quotes in hindi

Mujhko yaki hai sach kahti thi jo bhi ammi kahati thi,
Jab mere bachpan ke din the chand me pariya rehti thi.
मुझको यक़ीं है सच कहती थीं जो भी अम्मी कहती थीं
जब मेरे बचपन के दिन थे चाँद में परियाँ रहती थीं


Shahadaza so gaya hai kahani sune bgair,
Bachpan ke taq me rakhi gudiya udas hai.
शहज़ादा सो गया है कहानी सुने बग़ैर
बचपन के ताक़ में रखी गुड़िया उदास है

Jo bhule se bachpan me padaki thi titli,
Surur-e-wafa me bhi utra wahi rang.
जो भूले से बचपन में पकड़ी थी तितली
सुरूर-ए-वफ़ा में भी उतरा वही रंग

pixabay sharing copyright free images

Shayari on Maa

Shayari on Life

Shayari Rani's

Rani is gallant. She has a cool mind. Rani is very confident when it comes to speaking her mind. She is author at Shayari India and writes Shayari on various categories but Shayari on love and more is her favourites. When she is not blogging she can be seen working at i-Tech Computers, Mahasamund

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *