• Tue. Aug 3rd, 2021

Shayari India

Shayari in Hindi | Shayari on love, sad, friendship, smile, eyes, attitude | Shayari with images and more

attitude shayari

Attitude Shayari for those people who have an attitude and want to share it with the world. Click here to read all our Shayari on Attitude. Shayari are a collection of words used to share feelings. As Johnny Depp said, the problem is not the problem, the problem is your attitude to the problem.

There are many occasions in life when it is necessary to showcase your attitude and believe me Attitude is everything in life. Go ahead, read on! Pick up a nice pair of words on attitude and share it. Please do tell me in comments what Shayari did you choose to show your attitude to the world. Thanks and regards

There have been many villains and heros in this world who have ruled this world just with their attitude. Don’t’ let someone tell you what to do and what not to do. Show them who the real boss is. World is full of various categories of people with good and bad attitude. You don’t let someone ruin yours. 

The success and quality of life you live totally depends on your attitude towards life. 

Have your own attitude and live your own life! You deserve it…

Shayari on Attitude

Maana Ki Naseeb Main Mere Koi Sanam Nahi,
Fir Bhi Koi Shikhwa Koi Gam Nahi
Tanha The Aur Thanha Jiye Jaa Rahe Hai
Badnaasib to Who Hai Jinke Nasib Main Hum Hai…
Gumaane Na Kar Apne Dimag Pe Mere Dosth

Kaam Karo Aisa Ki Naam Ban Jaye
Chalo Aisa Ki Nisan Ban Jaye
Zindagi To Har Koi Kat Leta Hai Dostho,
Jiyo Iss Kadar Ki Nissal Ban Jaye……

ना block किया था और ना block करेंगे ,
तुझे तो अपना status और dp दिखा दिखा कर जलाएंगे

एक लड़का मुझसे बोला तू Smart Cute होके भी Single क्यूँ है..मैंने भी बोल दिया संस्कार पगले संस्कार !!

सुन पगले…
बहुत पापड़ बेलने पड़ते है
किसी का होने के लिये..
में कोई मैगी नहीं हूँ जो दो मिनट में
तुम्हारी बन जाऊँ..

नजरे…… झुका के और औकात
मे रह कर बात… किया कर
छोरे……. वरना मै 100
नम्बर पर जाऊ या ना जाऊ
पर तु 108 मे जरुर जाऐगा

मैं खुद ही अपने लिए Special हूँ
मुझे चाहने वाले तेरी Choice में दम है…!!!

एक तू प्यारी एक मै प्यारी.
बाकि जहनुम में जाए “दुनिया” सारी.

Jiska dil tuta ho
Woh phir bhi muskuraye
Iss se zyada or kya
Takleef hogi..

मैं रानी हु यहाँ की मेरे सामने Arguments ना कर
Demands पूरी कर वरना चल बेटा Side से निकल

Tanha Hi Sahi khus
Hoon Main
Tujhe Mere Bina Khus
Dekh Kar

US ladkay ki choice kitni
Awesome hogi
Jo Shaadi ke liye mujhe
Choose karega

Mat dekh meri profile ko
Warna pyaar ho jayega
Apni wali GF ko sambhal
Warna Breakup ho jayega

Kuch log mere photo dekh Kar
Itna excited ho jate hain
Ke samajh nahi pate
Pehle Like kare ya Save

Ho sake toh dilon me
Rehna sikho
Ghuroor mein toh har koi
Rehta hai.

Attitude तो हमारा भी
खतरनाक हैं pagal__
Ek बार जिसे भुला Diya
__उसे Bhula दिया””‘”

अपनेWhatsapp 🙁 पर मत
इतरा Pagle 🙂
जितनेतेरे … Friendहै… उतनेतोहमारे
Anytime_Online_रहते_है…

देखपगले हमFAMOUS हे उसकी वजह हमारा ATTITUDE हे Because जो हमको जानलेता है, वो हम पे जानदेता है ।।

सुन पगले….
Style तो Main शौंक Ke लिए ही मारती हुँ,
जमाने Ke लिए तो मेरी नशीली_आँखों Ke इशारे ही काफी Hain।

हमे ना सिखाओ पेश आने का तरीका
क्योंकि हम Queen है,
और Rules हम खुद ही बनाते है i

नजरे…… झुका के और औकात
मे रह कर बात… किया कर
छोरे……. वरना मै 100
नम्बर पर जाऊ या ना जाऊ
पर तु 108 मे जरुर जाऐगा

वो पायल की झंकार सुनने के लिए बेताब हैं
और हमें आदत है धीरे चलने की..

सुनो……!!
वो ऎसे .,
Ignore करते हैं हम को…..!!
जैसे Tata sky के.,
चैनल मे दूरदर्शन हो हम…..!!

ज़ुल्फ़े इसलिये खुली रखती हूँ मैं
, तुम्हारा दिल जो जुल्फो से बाँधना है

मैं बहुत प्यार से पेश आती हूं सबसे
पर इसका ये मतलब नहीं की हर लड़का मुझमे इश्क ढूंढ़ता फिरे ..

Anjaam kee paravaah hotee to,
hum mohabbat karna chhod dete,
mohabbat mein to jidd hotee hai,
aur jidd ke bade pakke hain ham!!

शायरीयो का बादशाह हूँ और कलम मेरी रानी है,
अल्फाज़ मेरे गुलाम है, बाकी रब की महेरबानी है!!..

Chalo aaj phir thoda muskuraaya jaaye,
bina machis ke kuchh logo ko jalaaya jaaye!!

Bewakoof hote hai vo log,
Jo kitab me chhuhare daal ke padha karate hai,
Ham to uname se hai jo chehare ko dekh ke,
Kitaab likh diya karate hai!!

ज़िंदगी से हम अपनी कुछ उधार नही लेते,
कफ़न भी लेते है तो अपनी ज़िंदगी देकर!!

Bheed mein khada hona maqsad nahi hai mera,
balki bheed jiske liye khadee hai vo banana hai mujhe!!

मैंने कुछ लोग लगा रखे हैं पीठ पीछे बात करने के लिए,
पगार कुछ नहीं है उनकी पर काम बड़ी ईमानदारी से करते हैं!!

अभी तो हम मैदान में उतरे भी नहीं,
और लोगों ने हमारे चर्चे शुरू कर दिये!!

जब से मुझे पता चला है कि मेरा आत्मविश्वास मेरे साथ है,
तबसे मैने ये सोचना बंद कर दिया कि कौन मेरे खिलाफ है!!

Ye mat samajh ki tere kabil nahi hain hum,
Tadap rahe hain vo jise haasil nahin hain ham.

Woh Khud Par Guroor Karte Hai,
To Isme Hairat Ki Koi Baat Nahi.
Jinhe Hum Chahte Hai,
Woh Aam Ho Hi Nahi Sakte.

Jaha kadar na ho apni Waha jana fizool hai,
Chahe kisi ka ghar ho chahe kisi ka dil.

मेरी ख़ामोशी को कमजोरी ना समझ ऐ काफिर,
गुमनाम समन्दर ही खौफ लाता है!!

हमको आज़माने की ज़ुर्रत नहीं किसी की,
हम खुद अपनी तक़दीर लिखते है,
खुदा की लिखावट को बदलना तो हमारी फ़ितरत है,
हार को जीत में बदल कर हाथो की लकीर बदलते है!!

जमींर हमसे बेचा ना गया,
वरना शाम तक अमीर हो जाते,
वाकिफ़ तो हम भी हैं, मशहूर होने के तौर तरीकों से,
पर ज़िद तो हमें अपने अंदाज से जीने की है।

मुझे आसमानो में उड़ने का शोक हैं,
परिंदो के बीच खेलने का शोक हैं,
अगर मुझे जानना हो तो जरा दूर से ही जानना
मैं परवाना हूँ, मुझे आग में जलने का शोक हैं!

कदर कर लो उनकी जो तुमसे,
बिना मतलब की चाहत करते है,
दुनिया मे ख्याल रखने वाले कम,
और तकलीफ देने वाले ज्यादा होते है!

किसी के पास सब कुछ हो,
तो जलती है दुनियाँ,
किसी के पास कुछ ना हो,
तो हँसती है दुनियाँ,
लेकिन मेरे पास तो मेरे माँ-बाप है,
जिसके लिए तरसती है दुनियाँ!

Sikha diya duniya ne mujhe apno par bhi shak karna
Meri fitrat mein to gairon par bhi bharosa karna tha!

शायद मैं इसीलिए पीछे हूं,
मुझे होशियारी नही आती,
बेशक लोग ना समझे मेरी वफादारी,
मगर यारो मुझे गद्दारी नही आती।.

दुआएँ जमा करने में लग जाओ साहब,
खबर पक्की है दौलत और शोहरत साथ नहीं जायेंगे।

मेरी ख़ामोशी को कमजोरी ना समझ ऐ काफिर,
गुमनाम समन्दर ही खौफ लाता है!!

हमको आज़माने की ज़ुर्रत नहीं किसी की,
हम खुद अपनी तक़दीर लिखते है,
खुदा की लिखावट को बदलना तो हमारी फ़ितरत है,
हार को जीत में बदल कर हाथो की लकीर बदलते है!!

जमींर हमसे बेचा ना गया,
वरना शाम तक अमीर हो जाते,
वाकिफ़ तो हम भी हैं, मशहूर होने के तौर तरीकों से,
पर ज़िद तो हमें अपने अंदाज से जीने की है।

मुझे आसमानो में उड़ने का शोक हैं,
परिंदो के बीच खेलने का शोक हैं,
अगर मुझे जानना हो तो जरा दूर से ही जानना
मैं परवाना हूँ, मुझे आग में जलने का शोक हैं!

कदर कर लो उनकी जो तुमसे,
बिना मतलब की चाहत करते है,
दुनिया मे ख्याल रखने वाले कम,
और तकलीफ देने वाले ज्यादा होते है!

किसी के पास सब कुछ हो,
तो जलती है दुनियाँ,
किसी के पास कुछ ना हो,
तो हँसती है दुनियाँ,
लेकिन मेरे पास तो मेरे माँ-बाप है,
जिसके लिए तरसती है दुनियाँ!

Sikha diya duniya ne mujhe apno par bhi shak karna
Meri fitrat mein to gairon par bhi bharosa karna tha!

शायद मैं इसीलिए पीछे हूं,
मुझे होशियारी नही आती,
बेशक लोग ना समझे मेरी वफादारी,
मगर यारो मुझे गद्दारी नही आती।.

दुआएँ जमा करने में लग जाओ साहब,
खबर पक्की है दौलत और शोहरत साथ नहीं जायेंगे।

Wo Shama Ki Mehfil Hi Kya,
Jisme Parvana Jal Kar Khaak Na Ho,
Maza To Tab Aata Hai
Chahat Ka Jab Dil To Jale Magar Raakh Na Ho.

Meri chahat ko apni mohabbat bana ke dekh,
Meri hasee ko apne honto pe muskura k dekh,
Mere aansoo ko apni aankho se gira ke dekh,
Meri tadap ko apne dil se mehsus kar ke dekh,
Ye mohabbat ek haseen tohfaa hain aye-jaan,
Kabi mohabbat ko mohabbat ki tarah b nibha k dekh.

Numaish karne se Chahat badh nahi jaati,
Mohabbat wo bhi karte hai izhaar nahi karte.

Tere Har Gam Ko Rooh Me Utar Lun,
Zindagi Apni Teri Chahat Me Sanwar Lun,
Mulakaat Ho Tujhse Kuch Is Kadar Meri,
Saari Umr Bas Ek Mulakaat Me Gujar Lun

Rishton Se Badi Chahat Aur Kya Hogi,
Dosti Se Badi Ibadat Aur Kya Hogi,
Jise Dost Mil Sake Koyi Aap Jaisa,
Use Zindgi Se Koyi Aur Shikayat Kya Hogi

रिश्तों से बड़ी चाहत और क्या होगी,
दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी,
जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा,
उसे ज़िंदगी से कोई और शिकायत क्या होगी।

Haq Se Do Toh Tumhari Nafrat Bhi Qabool Humein,
Khairat Mein Toh Hum Tumhari Mohabbat Bhi Na Lein.

Kee Mohabbat Toh Siyasat Ka Chalan Chhod Diya,
Hum Agar Pyar Na Karte Toh Hukoomat Karte.

Hum Bhi Bargad Ke Darakhton Ki Tarah Hain,
Jahan Dil Lag Jaye Wahan TaUmr Khade Rahte Hain.

Zarron Mein RahGujar Ke Chamak Chhod Jaaunga,
Pehchan Apni Dur Talak Chhod Jaaunga.
Khamoshiyon Ki Maut Ganwara Nahi Mujhe,
Sheesha Hoon Toot Kar Bhi Khanak Chhod Jaunga

Mizaaj Mein Thodi Sakhti Lazimi Hai Huzoor,
Log Pee Jaate Samandar Agar Khara Na Hota.

Sahaare Dhhoondhne Ki Aadat Nahi Humari,
Hum Akele Poori Mehfil Ke Barabar Hain.

Thodi Khuddari Bhi Lajimi Thi Dosto,
Usne Haath Chhudaya Toh Humne Chhod Diya.

भाई की पहोंच दिल्ली से लेकर कब्रस्तान तक हैं ,
आवाज दिल्ली तक जाती हैं ओर दुश्मन कब्रस्तान तक ।

Mujhe Pata Hai K Meri Khuddari Tumhe Kho Degi,
Main Bhi Kya Karu, Mujhe Maangne Ki Aadat Nahi.

राज तो हमारा हर जगह पे है।
पसंद करने वालों के “दिल” में और
नापसंद करने वालों के “दिमाग” में।

Teri Mohabbat Mein..
Aur Meri Fitrat Mein..
Fark Sirf Itna Hai,
Ki Tera Attitude Nahi Jata..
Aur Mujhe Jhukna Nahi Aata.

Maana Ki Naseeb Mein Mere Koi Sanam Nahi,
Fir Bhi Koi Shikwa Koi Gum Nahi,
Tanha The Aur Tanha Jiye Jaa Rahe Hai,
Badnasib To Wo Hai Jinke Nasib Mein Hum Nahi.

अकड़ तोड़नीहै उन मंजिलों की, जिनको अपनीऊंचाई पर गरूर_है ।।

राहेंबदले या बदलेवक्त,
हम तो अपनीमँजिल पायेंगे, जो समझते है खुद को बादशाह, एकदिन उसे अपनेदरबार में जरूरनचायेंगे ।।

हम थोडे से चुप क्या हुए…
बच्चे शोर मचाने लग गये.

मेरासाथ छोड़कर दौलतवाले का हाथथामा था तुमने, अब मैं रोज इतनीदौलत कमाता हूँ,
कि हरदिन तुझे दौलत से तौलदूँ ।।

आँख उठाकर भी न देखूँ,
जिससे मेरा दिल न मिले,
जबरन सबसे हाथ मिलाना,
मेरे बस की बात नहीं.

आग लगाना मेरी फितरत में नही है ..
मेरी सादगी से लोग जलें तो मेरा क्या कसूर.

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बून्द के लिए
हम तो बादल है प्यार के किसी और पर बरस जायेंगे.

हुकुमत वो ही करता है
जिसका दिलो पर राज हो!!
वरना यूँ तो
गली के मुर्गो के सर पे भी ताज होता है!!

Suruaat Se Dekhne Ki Aadat Hai Hame..
Chahe Vo Film Ho Ya Dushman Ki Barbadi.

Humko Aajmane Ki Zurrat Kisi Ki,
Hum Khud Apna Taqdeer Likhte Hai,
Khuda Ke Likhawat Ko Badalna To Hamari Fitrat Hai,
Haar Ko Jeet Mein Badal Kar Hatho Ki Lakeer Badalte Hai.

मेरा Attitude तो इतना S0lid है Baby,
अगर तेरी Chat History Delete, तो समझ तू भी Life से Permanently Delete…

Sareef hai hum kisi se ladte nhi …..
Par zamana janta hai kisi k baap se darte nhi…

खेल ताश का हो या जिंदगी का,
अपना इक्का तब ही दिखाना,
जब सामने बादशाह हो ।

वो पगली पूरी life अपनी image बनाने में रह गई …
और हम पूरी gallary बना गए.

जंगल मे जब शेर चैन कि नींद सोता है,
तो कुत्तो को गलतफेमी हो जाती हे कि,
इस जंगल मे अपना राज है.

मैं बड़ो कि इज़्जत इसलिए करता हु,….
क्यूंकि उनकी अच्छाइया मुझसे ज़्यादा है…….
और छोटो से प्यार इसलिए करता हु…….
क्यूंकि उनके गुनाह मुझसे कम…

हम आज भी अपने हुनर मे दम रखते है……
होश उड़ जाते है लोगो के, जब हम group में कदम रखते है..

किसी कादेखकर सिखानही और
किसी केआगे झुकानही,
बसयही_पहचान है अपनी।।

हम तो इतने रोमान्टिक है की हम अगर थोड़ी देर
मोबाइल?हाथ ??मै लेले.. तो वो भी गरम हो जाता है…

नफरत भी हम हैसियत देख कर करते है..
प्यार तो बहुत दूर की बात है ? ? ?
प्यार इश्क मोहब्बत सब धोखेबाजी है…
अपनी लाइफ में तो सिर्फ Attitude ही काफी है ? ? ?

क्या करे बुरी आदत हे हमारी ,,
नर्क के दरवाजे के सामने खड़े होकर पाप करते हे !!

दुनिया दारी की चादर ओड़ के बैठे हैं..
पर जिस दिन दिमाग सटका ना तो इतिहास भी बदल देंगे..

टीवी के ‪‎Mute_Button के आगे
और हमारे ‪‎Attitude के आगे हर किसी की बोलती बंद हो जाती है..

सुन छोरी
देखेगी सपने मेरे, चैन खो जाएगा…
ऐसे ना देख पगली प्यार हो जाएगा.

पत्थर से पत्थर टकरायेगा तो आग लगेंगी और
humse से जो टकरायेगा उसकी 100% वाट लगेगी.”

राज तो हमारा हर जगह पे है। पसंद करने वालों के “दिल” में और नापसंद करने वालों के “दिमाग” में।

आँख उठाकर भी न देखूँ, जिससे मेरा दिल न मिले, जबरन सबसे हाथ मिलाना, मेरे बस की बात नहीं.!

मैं खुशनसीब हूँ जो उसकी नफरत कh हक़दार हूँ ऐसे तो उसकी मोहब्बत के हक़दार बहुत है

लोगों की औकात देखनी है तो कुछ दिन के लिए निकम्मे बन जाओ सारे रिश्ते खुद -ब-खुद सामने आ जायेंगे

दोस्ती दुश्मनी दोनों ही मज़ेदार है बस निभाने का दम होना चाहिए

ख़ौफ़ अपनी आँखों में रखो, हथियारों से दुश्मन की हड्डियाँ तोड़ी जा सकती है हौंसला नहीं

आज कल वो लोग भी कहते है कि हमारा तो नाम ही काफी है… जिनको गली में 2 लोग भी नही जानते

हमारी इज़्ज़त है लोगों में, औकात तो कुत्तों की होती है

अभी वाकिफ़ ही कहाँ है लोग हमारे उड़ान से वो और थे जो बह गए तूफ़ान में

रास्ते मुश्किल है पर हम मंज़िल ज़रूर पायेंगे ये जो किस्मत अकड़ कर बैठी है इसे भी ज़रूर हरायेंगे

हमारी हैसियत का अंदाज़ा,
तुम ये जान के लगा लो,
हम कभी उनके नही होते,
जो हर किसी के हो जाए।

बड़ी से बड़ी हस्ती मिट गयी मुझे झुकाने मे बेटा तू तो कोशिश भी मत करना तेरी उम्र गुजर जायगी मुझे गिराने मे..!

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बून्द के लिए
हम तो बादल है प्यार के किसी और पर बरस जायेंगे.

मेरे घर वाले बोले सुधर जा पगलh । मैने बोला अगर हम सुधर गये तो उनका क्या होगा जिन्हें हमारी मस्ती प्यारी है

हम दुश्मनों को भी बड़ी शानदार सज़ा देते हैं, हाथ नहीं उठाते बस नज़रों से गिरा देते हैं।

मुझे खैरात में मिली ख़ुशियाँ अच्छी नहीं लगती, मैं अपने ग़मों में भी रहता हूँ Rani की तरह..।

अंजाम की परवाह होती तो,
हम मोहब्बत करना छोड़ देते,
मोहब्बत में तो जिद्द होती है,
और जिद्द के बड़े पक्के हैं हम!!

Anjaam kee paravaah hotee to,
hum mohabbat karna chhod dete,
mohabbat mein to jidd hotee hai,
aur jidd ke bade pakke hain ham!!

शायरीयो का बादशाह हूँ और कलम मेरी रानी है,
अल्फाज़ मेरे गुलाम है, बाकी रब की महेरबानी है!!

Shayari ka badshah hoon aur kalam meri raani hai,
Alfaaz mere gulam hai, baaki rab ki maherabani hai!!

चलो आज फिर थोडा मुस्कुराया जाये,
बिना माचिस के कुछ लोगो को जलाया जाये!!

Chalo aaj phir thoda muskuraaya jaaye,
bina machis ke kuchh logo ko jalaaya jaaye!!

सूरज, चाँद और सितारे मेरे साथ में रहे,
जब तक तुम्हारा हाथ मेरे हाथ में रहे,
शाखों से जो टूट जाये वो पत्ता नहीं हैं हम,
आंधी से कोई कह दे कि औकात में रहे!!

Suraj, Chand Aur Sitare Mere Saath Mein Rahe,
Jab Tak Tumhara Haath Mere Haath Mein Rahe,
Shakhon Se Jo Toot Jaye Woh Patta Nahi Hain Hum,
Aandhi Se Koi Keh De Ke Aukaat Main Rahe.

तोहमते तो लगती रही रोज नयी नयी हम पर,
मगर जो सबसे हसीन इल्ज़ाम था वो तेरा नाम था!!

Tohamate to lagti rahi roj nayi nayi ham par,
magar jo sabse haseen ilzaam tha wo tera naam tha!!

भूलकर हमें अगर तुम रहते हो सलामत,
तो भूल कर तुमको संभलना हमें भी आता है,
मेरी फ़ितरत में ये आदत नहीं है वरना,
तेरी तरह बदल जाना हमें भी आता है!!

Bhoolkar hamen agar tum rahte ho salamat,
to bhool kar tumako sambhalana hamen bhi aata hai,
meri fitarat mein ye aadat nahin hai warana,
teri tarah badal jaana hamen bhi aata hai!!

बेवकूफ़ होते है वो लोग,
जो किताब मे चेहरे डाल के पढ़ा करते है,
हम तो उनमे से है जो चेहरे को देख के,
किताब लिख दिया करते है!!

Bewakoof hote hai vo log,
Jo kitab me chhuhare daal ke padha karate hai,
Ham to uname se hai jo chehare ko dekh ke,
Kitaab likh diya karate hai!!

ज़िंदगी से हम अपनी कुछ उधार नही लेते,
कफ़न भी लेते है तो अपनी ज़िंदगी देकर!!

Zindagi se ham apanee kuchh udhaar nahi lete,
kafan bhi lete hai to apanee zindagee dekar!!

भीड़ में खड़ा होना मकसद नहीं हैं मेरा,
बल्कि भीड़ जिसके लिए खडी है वो बनना है मुझे!!
Bheed mein khada hona maqsad nahi hai mera,
balki bheed jiske liye khadee hai vo banana hai mujhe!!

इतने अमीर तो नहीं कि सब कुछ खरीद लें,
पर इतने गरीब भी नहीं हुए कि खुद बिक जाएँ!!

Itane amir to nahin ki sab kuchh kharid len,
par itane gareeb bhi nahin hue ki khud bik jaen!!

मिला हूँ ख़ाक में ऊँची मगर औकात रखी है,
तुम्हारी बात थी आखिर तुम्हारी बात रखी है,
भले ही पेट की खातिर कहीं दिन बेच आया हूँ,
तुम्हारी याद की खातिर भी पूरी रात रखी है!!

Mila Hun Khaak Me Unchi Magar Aukaat Rakhi Hai,
Tumhari Baat Thi Aakhir Tumhari Baat Rakhi Hai,
Bhale Hi Pet Ki Khatir Kahin Din Bech Aaya Hun,
Tumhari Yaad Ki Khatir Bhi Puri Raat Rakhi Hai.

औकात की बात मत कर पगली,
हम जिस गली में पैर रखते हैं,
वहाँ की लड़कियां अक्सर कहती हैं,
बहारो फूल बरसाओ मेरा महबूब आया है!!

Aukat Ki Baat Mat Kar Pagli,
Hum Jis Gali Mein Pair Rakhte Hain,
Wahan Ki Ladkiyan Aksar Kahti Hain,
Baharon Phool Barsaao Mere Mahboob Aaya Hai.

मैंने कुछ लोग लगा रखे हैं पीठ पीछे बात करने के लिए,
पगार कुछ नहीं है उनकी पर काम बड़ी ईमानदारी से करते हैं!!

अभी तो हम मैदान में उतरे भी नहीं,
और लोगों ने हमारे चर्चे शुरू कर दिये!!

Abhi to hum maidan mein utre bhi nahin,
Aur logon ne hamare charche shuri kar diye!!

जब से मुझे पता चला है कि मेरा आत्मविश्वास मेरे साथ है,
तबसे मैने ये सोचना बंद कर दिया कि कौन मेरे खिलाफ है!!

Jab Se Mujhe Pata Chala Ki Mera Atmvishwas Mere Sath Hai,
Tabse Maine Ye Sochna Band Kar Diya Ki Kaun Mere Khilf Hai.

हम जैसा सौदागर ना मिलेगा तुम्हे,
बेवफाओ के इस शहर में,
अपनो के आँसू खरीदने का हौसला रखते हैं,
अपनी मुस्कान बेच कर!!

Ham jaisa saudagar na milega tujhe,
Bewafao ke is shahar mein,
Apno ke aansoo kharidne ka hausala rakhate hain,
Apani muskaan bech kar!!

सनम तेरी नफ़रत में वो दम नही,
जो मेरी चाहत को मिटा दे,
ये मोहब्बत है कोई खेल नही,
जो आज हंस के खेला और कल रो के भुला दे!!

Sanam Teri Nafarat Me Wo Dam Nahin,
Jo Meri Chahat Ko Mita De,
Ye Mohabbat Hai Koi Khel Nahi,
Aaj Hans Ke Khela Aur Kal Ro Ke Bhula De.

आने वाली को रोकता नहीं,
जाने वाली को टोकता नहीं,
मै नवाब हूँ पगली,
इसलिए किसी के सामने झुकता नहीं!!

Aane wale ko rokta nahi,
Jane wale ko tokta nahi,
Main nawab hoon pagli,
Isaliye kisi ke saamane jhukta nahin!!

ये मत समझ कि तेरे काबिल नहीं हैं हम,
तड़प रहे हैं वो जिसे हासिल नहीं हैं हम।

Ye mat samajh ki tere kabil nahi hain hum,
Tadap rahe hain vo jise haasil nahin hain ham.

वो खुद पर इतना गुरूर करते हैं,
तो इसमें हैरत की बात नहीं,
जिन्हें हम चाहते हैं,
वो आम हो ही नहीं सकते।

Woh Khud Par Guroor Karte Hai,
To Isme Hairat Ki Koi Baat Nahi.
Jinhe Hum Chahte Hai,
Woh Aam Ho Hi Nahi Sakte.

जहाँ कदर न हो अपनी वहाँ जाना फ़िज़ूल है,
चाहे किसी का घर हो चाहे किसी का दिल।

Jaha kadar na ho apni Waha jana fizool hai,
Chahe kisi ka ghar ho chahe kisi ka dil.

पीने पिलाने की क्या बात करते हो,
कभी हम भी पिया करते थे,
जितनी तुम जाम में लिए बैठे हो,
उतनी हम पैमाने में छोड़ दिया करते थे।

Pine Pilaane Ki Kya Baat Karte Ho,
Kabhi Hum Bhi Piya Karte The,
Jitni Tum Jaam Me Liye Bethe Ho,
Utni Hum Paimaane Me Chhod Diya Karte The.

मत पढ़ा करो मेरी शायरी को इतना गौर से,
कभी कुछ याद रह गया तो भूल नहीं पाओगे।

Mat padha karo meri shayari ko itna gaur se,
kabhi kuchh yaad rah gaya to bhool nahi paoge.

मैं वही हूँ जो कहता था कि,
इश्क में क्या रखा है पर,
आजकल एक पगली की मोहब्बत ने,
मुझे पागल बना रखा है।

ein Wahi Hun Jo Kehta Tha Ki
Ishq Me Kya Rakha Hai Par
Aajkal Ek Pagli Ki Muhobbat Ne
Mujhe Pagal Bana Rakha Hai…

मेरी ख़ामोशी को कमजोरी ना समझ ऐ काफिर,
गुमनाम समन्दर ही खौफ लाता है!!

Meri khamoshi ko kamjori na samajh aye kafir,
Gumnaam samandar hee khauph laata hai!!

हमको आज़माने की ज़ुर्रत नहीं किसी की,
हम खुद अपनी तक़दीर लिखते है,
खुदा की लिखावट को बदलना तो हमारी फ़ितरत है,
हार को जीत में बदल कर हाथो की लकीर बदलते है!!

Hamako aazamane ki jarurat nahin kisi ki,
ham khud apani taqdeer likhte hai,
khuda ki likhawt ko badalna to hamaari fitrat hai,
haar ko jeet mein badal kar hatho ki lakir badlte hai!!

हम बसा लेंगे एक दुनिया किसी और के साथ,
तेरे आगे रोयें अब इतने भी बेगैरत नहीं हैं हम!!

More Shayari on Attitude

Hum Basaa Lenge Ek Duniya Kisi Aur Ke Saath,
Tere Aage Royein Ab Itne Bhi Begairat Nahi Hain Hum.

कुत्ते भोंकते है, ज़िंदा होने का एहसास दिलाने क लिए,
जंगल का सन्नाटा, शेर की मौज़ूदगी बयाँ करता है!!

Kutte bhonkte hai, zinda hone ka ehsaas dilane ke liye,
Jugle ka sannaata, sher ki mauzudagi bayaan karta hai!!

बदलना चाहते हो तो शौक से बदलो,
मगर इतना हमेशा याद रखना,
जो हम बदले तो करवटें बदलते रह जाओगे!!

Badalana Chaahate Ho To Shauk Se Badalo,
Magar Itna Yaad Rakhana. .
Jo Ham Badale To Karavaten Badalate Rah Jaoge.

उसे भूल कर जिया तो क्या जिया,
दम है तो उसे पाकर दिखा,
लिख पत्थरो पर अपने प्रेम की कहानी,
और सागर को बोल,
दम है तो इसे मिटा कर दिखा!!
Use bhool kar jiya to kya jiya,
Dam hai to use pakar dikha,
likh pattharon par apne pyar ki kahani,
Aur bol sagar se dam hai to ise mita kar dikha,

जमींर हमसे बेचा ना गया,
वरना शाम तक अमीर हो जाते,
वाकिफ़ तो हम भी हैं, मशहूर होने के तौर तरीकों से,
पर ज़िद तो हमें अपने अंदाज से जीने की है।

मुझे आसमानो में उड़ने का शोक हैं,
परिंदो के बीच खेलने का शोक हैं,
अगर मुझे जानना हो तो जरा दूर से ही जानना
मैं परवाना हूँ, मुझे आग में जलने का शोक हैं!

Mujhe aasmano mein udne ka shok hain,
Parindo ke beech khelne ka shok hain,
Agar mjhe Jaanna ho to jara dur se hi jaanna,
Mai parwana hu mjhe aag me jalne ka shok hai.

Bikne Wale Aur Bhi Hain Jao Jakar Khareed Lo,
Hum Kimat Se Nahin Kismat Se Mila Karte Hain.

बिकने वाले और भी हैं जाओ जाकर खरीद लो,
हम कीमत से नहीं किस्मत से मिला करते हैं।

Shankhon Se Gir Kar Toot Jaaun Main Wo Patta Nahi,
Aandhiyon Se Kah Do Ki Apni Aukaat Me Rahen.

शांखो से गिर कर टूट जाऊ मै वो पत्ता नही,
आंधियो से कह दो कि अपनी औकात मे रहें।

Akadti Ja Rahi Hain Har Roj Gardan Ki Nasen,
Aaj Tak Nahin Aaya Hunar Sar Jhukane Ka.

अकड़ती जा रही हैं हर रोज गर्दन की नसें,
आज तक नहीं आया हुनर सर झुकाने का।

Mana Ke Iss Zamin Ko Gulzar Na Kar Sake,
Kuchh Khaar Kam To Kar Gaye Gujre Jidhar Se Hum.

माना के इस ज़मीं को गुलज़ार न कर सके,
कुछ खार कम तो कर गए गुजरे जिधर से हम।

Koshish Yehi Rahti Hai Ki
Humse Kabhi Koi Ruthe Na,
Magar Nazar Andaaz Karne Wale Ko
Palat Kar Hum Bhi Nahi Dekhte.

कोशिश ये ही रहती है कि
हमसे कभी कोई रूठे न,
मगर नजर अंदाज करने वाले को
पलट कर हम भी नहीं देखते।

Tum Girane Me Lage The Tum Ne Socha Bhi Nahin,
Main Gira To Masla Bankar Khada Ho Jaoonga.

तुम गिराने में लगे थे तुम ने सोचा भी नहीं,
मैं गिरा तो मसअला बनकर खड़ा हो जाऊँगा।

Mujh Ko Chalne Do Akela Hai Abhi Mera Safar,
Raasta Roka Gaya To Qaafila Ho Jaoonga.

मुझ को चलने दो अकेला है अभी मेरा सफ़र,
रास्ता रोका गया तो क़ाफ़िला हो जाऊँगा।

Aasmaan Me Udhne Wale Jara Ye Khabar Bhi Rakh,
Jannat Pahuchne Ka Rasta Mitti Se Hi Gujarta Hai.

आसमान में उड़ने वाले जरा ये खबर भी रख।
जन्नत पहुँचने का रास्ता मिट्टी से ही गुजरता है।

Main Kyun Kuchh Soch Kar Dil Chhota Karun,
Wo Utni Hi Kar Saki Wafa Jitni Uski Aukaat Thi.

मैं क्यूँ कुछ सोच कर दिल छोटा करूँ,
वो उतनी ही कर सकी वफ़ा जितनी उसकी औकात थी।

Pichhle Baras Tha Khauf Ki Tujhko Kho Na Dun,
Ab Ke Baras Ye Dua Hai Ki Tera Samna Na Ho.

पिछले बरस था खौफ की तुझको खो ना दूँ कही,
अब के बरस ये दुआ है की तेरा सामना ना हो।

Toote Makaan Wala Hun, Dil Me Taajmahel Rakhta Hun,
Baat Gaheri Magar Alfaaz Rakhta Hun,

टूटे मक़ान वाला हूँ दिल में ताजमहल रखता हूँ,
बात गहरी मगर अल्फ़ाज़ सरल रखता हूँ।

Har Kisi Ke Hath Main Ik Jaane Ko Taiyar Nahi,
Yeh Mera Dil Hai Tere Saher Ka Akhbaar Nahi.

हर किसी के हाथ मैं बिक जाने को तैयार नहीं,
यह मेरा दिल है तेरे शहर का अख़बार नहीं।

Pana Hai Mukam Abhi Baki Hai,
Abhi To Zameen Par Aaye Hain,
Aasmaan Ki Udaan Abhi Baki Hai.

पाना है मुकाम अभी बाकी है
अभी तो जमीन पर आये हैं
असमान की उडान अभी बाकी है।

Ye Mat Samajh Ke Tere Kabil Nahi Hain Hum,
Tadap Rahe Hain Wo Jinhe Haasil Nahi Hain Hum.

ये मत समझ के तेरे काबिल नहीं हैं हम,
तड़प रहें हैं वो जिन्हें हासिल नहीं हैं हम।

Roothha Hua Hai Mujh Se Is Baat Pe Zamana,
Shamil Nahi Hai Meri Fitrat Me Sar Jhukana.

रूठा हुआ है मुझ से इस बात पर ज़माना,
शामिल नहीं है मेरी फ़ितरत में सर झुकाना।

Haq Se Agar De Toh Nafrat Bhi Kabool Hai,
Khairat Mein Toh Teri Mohabbat Bhi Manzoor Nahi.

​​हक़ से अगर दे तो ​नफरत​ भी कबूल है,
खैरात में तो तेरी मोहब्बत भी मंजूर नहीं।

Hamen To Apno Ne Luta Gairon Me Dam Kaha Dam Tha
Are Hamne To Usaki Bhi Akad Tod Di Jiska Naam Yam Tha.

हमें तो अपनों ने लुटा गैरों में दम कहा दम था
अरे हमने तो उसकी भी अकड़ तोड़ दी जिसका नाम यम था।

Mujhse Nafrat Hi Karni Hai
To Iraade Majboot Rakhna,
Jara Se Bhi Agar Chuke
To Fir Mohabbat Ho Jayegi.

मुझसे नफरत ही करनी है
तो इरादे मजबूत रखना,
जरा से भी अगर चूके
तो फिर मोहब्बत हो जाएगी।

Attitude Shayari

Aankh Uthakar Bhi Na Dekhun,
Jisse Mera Dil Na Mile,
Jabaran Sabse Haath Milana,
Mere Bas Ki Baat Nahin.

आँख उठाकर भी न देखूँ,
जिससे मेरा दिल न मिले,
जबरन सबसे हाथ मिलाना,
मेरे बस की बात नहीं।

Anjaam Ki Parwaah Hoti To,
Hum #Mohabbat Karna Chhod Dete,
Mohabbat Me To #Zid Hoti Hai,
Aur Zid Ke Bade Pakke Hain Hum.

अंजाम की परवाह होती तो,
हम #मोहब्बत करना छोड़ देते,
मोहब्बत में तो #जिद्द होती है,
और जिद्द के बड़े पक्के हैं हम।

Jo Hukm Karta Hai Wo iltija Bhi Karta Hai,
Aasman Bhi Kahi Jaakar Jhuka Karta Hai,
Agar Tu Bewafa Hai To Ye Bhi Sun Le,
Intezar Mera Koi Waha Bhi Karta Hai.

जो हुक्म करता है वो इल्तिजा भी करता है,
आसमान भी कहीं जाकर झुका करता है,
अगर तू बेवफा है तो ये भी सुन ले,
इंतज़ार मेरा कोई बहां भी करता है।

Ret Par Naam Kabhi Likhte Nahi,
Ret Par Naam Kabhi Tikte Nahi,
Ki Hum Patthar Dil Hain, Lekin
Pattharo Par Likhe Naam Kabhi Mitte Nahi.

रेत पर नाम कभी लिखते नहीं
रेत पर नाम कभी टिकते नहीं,लोग कहते है,
कि हम पत्थर दिल हैं,लेकिन
पत्थरों पर लिखे नाम कभी मिटते नहीं।

Suraj, Chand Aur Sitare Mere Saath Me Rahen,
Jab Tak Tera Haath Mere Haath Me Rahe,
Shakhon Se Jo Toot Jaye Wo Patta Nahi Hain Hum,
Aandhi Se Koi Keh De Ke Aukaat Me Rahen.

सूरज, चाँद और सितारे मेरे साथ में रहे,
जब तक तेरा हाथ मेरे हाथ में रहे,
शाखों से जो टूट जाये वो पत्ता नहीं हैं हम,
आंधी से कोई कह दे कि औकात में रहे।

Aag Lagana Meri Fitrat Me Nahin,
Meri Sadagi Se Log Jale To Mera Kya Kasoor.

आग लगाना मेरी फितरत मे नहीं,
मेरी सादगी से लोग जले तो मेरा क्या कसूर।

Thahar Sake Jo Labon Par Hamare,
Hansi Ke Sivay Majaal Kiski.

ठहर सके जो लबों पर हमारे,
हंसी के सिवाय मजाल किसकी।

Log Wakif Hain Meri Aadton Se,
Rutava Kam Hi Sahi Par Lajabab Rakhta Hun.

लोग वाकिफ हैं मेरी आदतों से,
रुतवा कम ही सही पर लाजबाब रखता हूँ।

Chalo Aaj Fir Thoda Muskuraya Jaye,
Bina Maachis Ke Logon Ko Jalaya Jaye.

चलो आज फिर थोड़ा मुस्कुराया जाये,
बिना माचिस के लोगों को जलाया जाये।

Teri Mohabbat Ko Kabhi Khel Nahi Samjha,
Varna Khel To Itne Khele Hain Ke Kabhi Haare Nahi.

तेरी मोहब्बत को कभी खेल नहीं समझा,
वरना खेल तो इतने खेले हैं कि कभी हारे नहीं।

Laakh Talvare Badi Aati Hon Meri Gardan Ki Taraf,
Sar Jhukana Nahin Hamen Aata To Jhukaey Kaise.

लाख तलवारे बड़ी आती हों मेरी गर्दन की तरफ,
सर झुकाना नहीं हमें आता तो झुकाए कैसे।

Hadson Ki Jad Me Hain To Kya Muskurana Chhod De,
Jalajalo Ke Khauf Se Kya Ghar Banana Chhod Den.


हादसों की जद मे हैं तो क्या मुस्कुराना छोड़ दे,
जलजलो के खौफ से क्या घर बनाना छोड़ दें।

Khwaab Me To Khwaab Poore Ho Nahi Sakte Kabhi,
Isaliye Raah-E-Hakeekat Par Chala Karta Hoon.

ख्वाब मे तो ख्वाब पूरे हो नही सकते कभी,
इसलिए राह-ए-हकीकत पर चला करता हूँ।

Mahaboob Ka Ghar Ho Ya Farishton Ki Ho Jameen,
Jo Chhod Diya Phir Use Mudakar Nahin Dekha.

महबूब का घर हो या फरिश्तों कि हो जमीं,
जो छोड़ दिया फिर उसे मुड़कर नहीं देखा।

Zamin Par Rah Kar Aasmaan Chhune Ki Fitrat Hai Meri,
Par Gira Kar Kisi Ko Upar Uthane Ka Shauk Nahi Mujhe.

ज़मीं पर रह कर आसमान छूने की फितरत है मेरी,
पर गिरा कर किसी को उपर उठने का शौक नहीं मुझे।

Sahi Waqt Par Karwa Denge Hadon Ka Ehsaas,
Kuchh Talaab Khud Ko Samandar Samajh Baithe Hain.

सही वक़्त पर करवा देंगे हदों का एहसास,
कुछ तालाब खुद को समंदर समझ बैठे हैं

Chhod Di Hai Ab Hamne Wo Fanakari Warna,
Tujh Jaise Haseen To Kalam Se Bana Diya Karte The.

छोड़ दी है अब हमने वो फनकारी वरना,
तुझ जैसे हसीं तो कलम से बना दिया करते थे।

Naaj Kya Ispe Jo Badla Zamane Ne Tumhen,
Warana Ham To Wo Hain Jo Jamana Badal Dete Hain.

नाज क्या इसपे जो बदला ज़माने ने तुम्हें,
वरना हम तो वो हैं जो जमाना बदल देते हैं।

Dushmano Ko Sazaa Dene Ki Ek Tehzeeb Hai Meri,
Main Haath Nahi Uthhata Bas Najaron Se Gira Deta Hun.

दुश्मनो को सजा देने की एक तहजीब है मेरी,
मै हाथ नहीं उठाता बस नजरों से गिरा देता हूँ।

Kaafile Me Bilakul Peechhe Hun Koi Baat Hai Warna,
Meri Khaak Tak Na Paate Mere Saath Chalne Wale.

काफिले मे बिलकुल पीछे हूँ कोई बात है वरना,
मेरी ख़ाक तक ना पाते मेरे साथ चलने वाले।

Jameen Par Aao Phir Dekho Hamari Ahmiyat,
Bulandi Se Kabhi Jarron Ka Andaza Nahin Hota.

जमीं पर आओ फिर देखो हमारी अहमियत,
बुलंदी से कभी जर्रों का अंदाज़ा नहीं होता।

Na Main Gira Na Meri Ummeedon Ki Meenaar Gire,
Par Kuchh Log Mujhe Girane Me Kai Baar Gire.

ना मैं गिरा ना मेरी उम्मीदों की मीनार गिरे,
पर कुछ लोग मुझे गिराने मे कई बार गिरे।

Aksar Wohi Log Uthhate Hain Hum Par Ungliyan,
Jinki Humein Chhune Ki Aukaat Nahi Hoti.

अक्सर वही लोग उठाते हैं हम पर उँगलियाँ,
जिनकी हमे छुने की औकात नहीं होती।

Abhi Kanch Hun Isaliye Duniya Ko Chubhta Hun,
Jab Aainaa Ban Jaunga Poori Duniya Dekhegi.

अभी कांच हूँ इसलिए दुनिया को चुभता हूँ,
जब आइना बन जाऊंगा पूरी दुनिया देखेगी।

Surme Ki Tarah Peesa Hai Hame Halaato Ne,
Tab Ja Ke Chade Hain Logo Ki Nigaahon Me.

सुरमे की तरह पीसा है हमे हालातो ने,
तब जा के चड़े हैं लोगो की निगाहों में।

Log Mujhe Apne Hothon Se Lagaye Huye Hain,
Meri Shohrat Kisi Ke Naam Ki Mohtaaz Nahin.

लोग मुझे अपने होठों से लगाये हुए हैं,
मेरी शोहरत किसी के नाम की मोहताज़ नहीं।

Teri Mohabbat Ki Talab Thi
Isliye Haath Faila Diye,
Varna Humne To Apni
Zindagi Ki Duaa Bhi Nahi Maangi.

तेरी मोहब्बत की तलब थी
इसलिए हाथ फैला दिए,
वरना हमने तो अपनी
जिन्दगी की दुआ भी न मांगी।

Sar Jhukane Ki Aadat Nahin Hai,
Aansoo Bahane Ki Aadat Nahin Hai,
Ham Kho Gaye To Pachhtaoge Bahut,
Hamari Lautkar Aane Ki Aadat Nahin Hai.

सर झुकाने कि आदत नहीं है,
आंसू बहाने की आदत नहीं है,
हम खो गए तो पछताओगे बहुत,
हमारी लौटकर आने की आदत नहीं है।

Wo Khud Par Gurur Karte Hain,
To Isme Hairat Ki Koi Baat Nahi.
Jinhe Hum Chahte Hain,
Wo Aam Ho Hi Nahi Sakte.

वो खुद पे इतना गुरूर करते हैं,
तो इसमें #हैरत की बात नहीं,
जिन्हें हम चाहते हैं,
वो आम हो ही नहीं सकते।

Anjaam Ki Parwah Hoti To,
Hum Mohabbat Karna Chhod Dete,
Mohabbat Me To Zid Hoti Hai,
Aur Zid Ke Bade Pakke Hain Hum.

अंजाम की परवाह होती तो,
हम मोहब्बत करना छोड़ देते,
मोहब्बत में तो जिद होती है,
और जिद के बड़े पक्के हैं हम।

Apni Mohabbat Ke Liye Aashiyana Badal Denge,
Dil Ne Chaha To Fasana Badal Denge,
Are Duniya Walo Tumhari Hasti Hi Kya Hai,
Jarurat Padi To Sara Jamana Badal Dengen.

अपनी मोहब्बत के लिए आशियाना बदल देंगे,
दिल ने चाहा फ़साना बदल देंगे,
अरे दुनिया वालो तुम्हारी हस्ती ही क्या है,
जरुरत पड़ी तो सारा जमाना बदल देंगें।

Abhi Mutthi Nahi Kholi Hain Maine Aasman Sun Le,
Tera Bas Waqt Aaya Hai Mera To Daur Aayega.

अभी मुट्ठी नहीं खोली हैं मैंने आसमान सुन ले,
तेरा बस वक़्त आया है मेरा तो दौर आयेगा।

Thodi Khuddari Bhi Jaruri Thi Dosto,
Usne Haath Chhudaya To Hamne Chhod Diya.

थोड़ी खुद्दारी भी जरुरी थी दोस्तो,
उसने हाथ छुड़ाया तो हमने छोड़ दिया।

Jal Jaate Hain Mere Andaaz Se Mere Dushman,
Kyuki Ek Muddat Se Maine Na Mohabbat Badli Na Dost.

जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन,
क्यूकि एक मुद्दत से मैंने ना मोहब्बत बदली ना दोस्त।

Aasman Itni Bulandi Pe Jo Itrata Hai,
Bhool Jaata Hai Zamin Se Hi Nazar Aata Hai.

आसमाँ इतनी बुलंदी पे जो इतराता है
भूल जाता है ज़मीं से ही नज़र आता है

Tere Gurur Ko Dekhkar Teri Tamana Hi Chhod Di Humne,
Jara Hum Bhi To Dekhen Kaun Chahta Hai Tumhe Humari Tarah.

तेरे गुरूर को देखकर तेरी तमन्ना ही छोड़ दी हमने,
जरा हम भी तो देखें कौन चाहता है तुम्हें हमारी तरह।

Abhi Suraj Nahi Dooba Zara Si Shaam Hone Do,
Main Khud Hi Laut Jaunga Mujhe Nakam Hone Do,
Mujhe Badnaam Karne Ka Bahana Dhundhte Kyun Ho,
Main Khud Ho Jaunga Badnaam Pehle Naam Hone Do.

अभी सूरज नहीं डूबा ज़रा सी शाम होने दो,
मैं खुद ही लौट जाऊंगा मुझे नाकाम होने दो,
मुझे बदनाम करने का बहाना ढूढ़ते क्यों हो,
मैं खुद हो जाऊंगा बदनाम पहले नाम होने दो।

Use Bhool Kar Jiya To Kya Jiya,
Dam Hai To Use Pakar Dikha,
Likh Patharon Par Apne Prem Ki Kahani,
Aur Sagar Ko Bol,
Dan Hai To Ab Mita Ke Dikha.

उसे भूल कर जिया तो क्या जिया,
दम है तो उसे पाकर दिखा,
लिख पत्थरो पर अपने प्रेम की कहानी,
और सागर को बोल,
दम है तो इसे मिटा कर दिखा।

Aadatein Buri Nahi Shauq Unche Hain,
Varna Kisi Khwab Ki Itni Aukat Nahi Ki
Hum Dekhein Aur Poora Na Ho.

आदतें बुरी नहीं शौक ऊँचे हैं,
वरना किसी ख्वाब की इतनी औकात नहीं कि
हम देखें और पूरा न हो।

Sabke Dilon Me Dhadkna Jaruri Nahi Hota Sahab,
Logon Ki Aankhon Me Khatkne Ka Bhi Ek Mazaa Hai.

सबके दिलों में धड़कना जरूरी नहीं होता साहब,
लोगों की आँखों में खटकने का भी एक मजा है।

Badla Badla Sa Hai Mijaj, Kya Baat Ho Gayi,
Shikayat Humse Hai, Ya Kisi Aur Se Mulakat Ho Gayi.

बदला बदला सा है मिजाज, क्या बात हो गई,
शिकायत हमसे है, या किसी और से मुलाकात हो गई।

Mila Hun Khaak Me Unchi Magar Aukaat Rakhi Hai,
Tumhari Baat Thi Aakhir Tumhari Baat Rakhi Hai,
Bhale Hi Pet Ki Khatir Kahin Din Bech Aaya Hun,
Tumhari Yaad Ki Khatir Bhi Puri Raat Rakhi Hai.

मिला हूँ ख़ाक में ऊँची मगर औकात रखी है,
तुम्हारी बात थी आखिर तुम्हारी बात रखी है,
भले ही पेट की खातिर कहीं दिन बेच आया हूँ ,
तुम्हारी याद की खातिर भी पूरी रात रखी है।

Aaj Maine Dil Ko Thhoda Saaf Kiya,
Kuchh Ko Bhula Diya Kuchh Ko Maaf Kiya.

आज मैंने दिल को थोड़ा साफ किया,
कुछ को भुला दिया कुछ को माफ किया।

Dikhawe Ki Mohabbat To Jamane Ko Hai Humse Par,
Ye Dil To Wahan Bikega Jahan Jazbato Ki Kadar Hogi.

दिखावे की मोहब्बत तो जमाने को हैं हमसे पर,
ये दिल तो वहाँ बिकेगा जहाँ ज़ज्बातो की कदर होगी।

Hum Na Badlenge Waqt Ki Raftar Ke Saath,
Jab Bhi Milenge Andaaz Purana Hoga.

हम ना बदलेंगे वक्त की रफ़्तार के साथ,
हम जब भी मिलेंगे अंदाज पुराना होगा।

Humari Haisiyat Ka Andaza,
Tum Ye Jaan Ke Laga Lo,
Hum Kabhi Unke Nahi Hote,
Jo Har Kisi Ke Ho Gaye.

हमारी हैसियत का अंदाजा,
तुम ये जान के लगा लो,
हम कभी उनके नहीं होते,
जो हर किसी के हो गए।

Gam e Hayat Pareshan Na Kar Sakega Mujhe,
Ke Aa Gaya Hai Hunar Mujhko Muskurane Ka.

गम ए हयात परेसान न कर सकेगा मुझे,
के आ गया हैं हुनर मुझको मुस्कुराने का।

Read More Urdu Poetry

Shadaab Memon

Shadab Memon is a geek. He loves to be surrounded by tech gadgets night and day. He is passionate about computers and technology. When chilling he can be found near peaceful beaches in India.

2 thoughts on “Attitude Shayari”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *